0 comments

योग क्या है और इसका अभ्यास कैसे करे - आसान शब्दों में


योग क्या है इसकी परिभाषा और व्याख्या अगर विस्तार से की जाए तो मोटे मोटे किताबें भी कम पड़ जाती हैं पर यहाँ हम आसान शब्दों में इसे समझेंगे | योग का मतलब जोड़ना होता है , योग हमें जुड़ना सिखाता है आपने आप से और इस ब्रम्हांडीय ऊर्जा से |



योग हमारे जीवन के कई पहलुओं पर असर डालता है जिससे हम आसान शब्दों में कह सकते हैं कि योग हमें इन पहलुओं से जोड़ता है:-

1.  योगासनों द्वारा योग हमारे शरीर के बहरी अंगो को मन के अनुसार जोड़ता है , जिससे शरीर की क्षमता बढ़ती है | ,
2.  प्राणायामों द्वारा योग हमारे शरीर के भीतरी अंगों और मन को प्राण ऊर्जा ( आत्मिक ऊर्जा ) से जोड़ता है , जिससे मन और शरीर के भीतरी अंगो की क्षमता बढ़ती है और शरीर और मन के सारे रोग ठीक हो जातें हैं | ,
3. ध्यान के अभ्यास द्वारा योग हमारे अस्तित्व को हमारी मूल प्रकृति से जोड़ देता है , आसान शब्दों में योगशास्त्रों के अनुसार आत्मा को ईश्वरीय चेतना से जोड़ता है जिससे हमारा नया आध्यात्मिक जन्म होता है | 

योग का समय : योग को किसी भी समय खली पेट किया जा सकता है पर सुबह सूर्योदय से पहले अगर आप इसे खुले आसमान के नीचे करते हैं तो ज्यादा लाभ मिलेगा | अगर आप योग में रूचि रखते हैं और योग के पूरे लाभ को जल्दी पाना चाहते हैं तो प्रति दिन कम से कम 15 मिनट योगासनों का अभ्यास , 1 घंटा प्राणायामों का अभ्यास और 15 मिनट से 1 घंटा या  इच्छानुसार जितनी भी देर हो सके ध्यान का अभ्यास करना चाहिए | अगर ऐसा आप रोजाना करते हैं तो आपको पहले ही दिन से फर्क महसूस होगा और 6 से 9 महीनों में आपको पूरा बदलाव महसूस होगा | 

सावधानियाँ और नियम :-
१. योग करते वक्त दरी, कम्बल या योग मैट बिछा कर योग करे , बिछावन पर भी योग को कर सकते है ,
२. योग हमेशा खाली पेट करे या खाने के 3 से 4  घंटे बाद करे,
३. योग करने से पहले शौच कर ले ताकि उसका पूरा लाभ मिल सके ,
४. योग सुबह सूर्योदय से पहले करने से ज्यादा लाभप्रद होता है पर इसका ये मतलब नहीं की देर से उठने पर योग नहीं करना चाहिए | योग को कभी भी खाली पेट में किया जा सकता है ,
५. योग करने के 15 से 20 मिनट  के बाद ही कुछ खाना या पीना चाहिए | शाकाहारी या कम मसालेदार भोजन करने से योग का लाभ जल्दी प्राप्त होता है |
६. योग में प्राणायाम एवं ध्यान करने के समय हमारे रीढ़ की हड्डी सीधी होनी चाहिए यानि हमें सीधे बैठना चाहिए न की झुककर |

इसे सीखने के लिए नीचे दिए गए स्वामी रामदेव के योग के वीडियो को अच्छे से देखें


1.  प्राणायामों को सीखने के लिए यह वीडियो देखें





2 . आसनो को सीखने के लिए यह वीडियो देखें :-




3. ध्यान के अभ्यास को सीखने के लिए यह वीडियो देखें 




Next
This is the most recent post.
Older Post

 
Toggle Footer
Top